Deputy-Chief-Minister-tatkalk-samachar
Tablets will prove helpful in providing informative information to students - Deputy Chief Minister

 निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति के लिए विद्यार्थी लगातार कड़ी मेहनत करें। विद्यार्थी काल में अनुशासन, समय का सदुपयोग और निरंतर प्रयास करके ही निर्धारित लक्ष्य तक पहुंचने में कामयाबी मिलती है। यह बात उप मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भदसाली में आयोजित वार्षिक पारितोषिक तथा मेधावी विद्यार्थियों को टैब वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए कही। 

इस अवसर पर उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 108 मेधावी विद्यार्थियों को टैबलेट बांटे। इसके अतिरिक्त उन्होंने स्कूल की विभिन्न वार्षिक गतिविधियों में अव्वल रहे विद्यार्थियों को भी पुरस्कार देकर सम्मानित किया। उन्होंने स्कूल में सांस्कृतिक गतिविधियों का बढ़ावा देने के लिए 31 हज़ार रूपये भी देने की घोषणा की।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में श्री निवास रामानुज योजना के तहत मेधावी विद्यार्थियों को टैबलेट प्रदान किए जा रहे हैं। टैबलेट के माध्यम से विद्यार्थियों को पढ़ाई करने में आसानी होगी। इसके साथ ही विद्यार्थियों को और अन्य ज्ञानवर्धक जानकारियां उपलब्ध करवाने में लाभकारी सिद्ध होंगे। उन्होंने बताया कि जिला में लगभग दो करोड़ रूपये के टैब मेधावी विद्यार्थियों को वितरित किए जा रहे हैं। इसी के तहत आज https://www.youtube.com/watch?v=QbY2qigt6mo भदसाली स्कूल में 21 लाख 60 हज़ार रूपये के 108 टैबलेट वितरित किए गए हैं। मुकेश अग्हिोत्री ने कहा कि वर्तमान समय डिजिटल का युग है। उन्होंने टैब प्राप्त करने वाले मेधावी विद्यार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि विद्यार्थियों की कड़ी मेहनत का ही फल है कि उन्हें आज टैब मिले हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से आहवान किया कि वे टैब का सही दिशा में उपयोग करें तथा पढ़ाई के साथ-साथ ज्ञानवर्धक जानकारियां भी हासिल करें। मुकेश अग्निहोत्री ने अन्य बच्चों को भी विजेता बच्चों से प्रेरणा लेने का आहवान ताकि वह भी आगामी वर्ष में पुरस्कार लेने के हकदार बन सकें। उन्होंने अध्यापकों से आहवान किया कि वे बच्चों को लर्निंग लाइसेंस बनवाने के बारे में भी प्रेरित करें। इसके अतिरिक्त जितनी भी डिजिटल सुविधाएं है उनके बारे में भी बच्चों को जागरूक करें।

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि अध्यापकों से आहवान किया कि वे स्कूल की बेहतरी के लिए निरंतर प्रयास करते रहें। उन्होंने कहा कि हरोली विस क्षेत्र को नॉलेज़ हब के रूप में आगे बढ़ाया जा रहा है। शिक्षा के क्षेत्र में मूलभूत ढांचा विकसित किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 2.5 दशकों में शिक्षा के क्षेत्र में जबरदस्त बदलाव हुआ है जिससे हरोली हल्के में शिक्षा का पूर्ण वातावरण पैदा हुआ है। उन्होंने कहा कि हरोली विस में समय के साथ-साथ नई पीढ़ी शिक्षित हो रही है। क्षेत्र में उच्च स्तर की शिक्षा ग्रहण करने के लिए नए संस्थान खोले गए हैं जिसका लाभ विशेषकर क्षेत्र की लड़कियों को मिला है। वर्तमान में हरोली विस क्षेत्र की लड़कियों को उच्च शिक्षा लेने के लिए अन्य क्षेत्रों में नहीं जाना पड़ रहा है उनको अपने घर-द्वार पर उच्च शिक्षा मिल रही है। उन्होंने कहा कि हरोली विधानसभा क्षेत्र के बच्चें वर्तमान में डॉक्टर, इंजीनियर व जज बनकर देश के उच्च संस्थानों में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। 

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भविष्य में मेधावी बच्चों को धार्मिक स्थलों के भ्रमण पर भी ले जाने का प्रयास किया जाएगा जिसके लिए कार्य योजना तैयार की जाएगी। उन्होंने अध्यापकों से आहवान किया कि बच्चों को भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करें। उन्होंने कहा कि हरोली विस स्कूलों के मध्य प्रतिस्पर्धाएं भी आयोजित करवाई जाएंगी जिसके लिए प्रत्येक स्कूल दो-दो अच्छे कार्यक्रम तैयार करें। इसके साथ ही उन्होंने अध्यापकों से कहा कि वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह के अवसर पर स्कूली बच्चों के अभिभावकों को समारोह में शामिल होने का संदेश अवश्य भेजे ताकि माता-पिता को अपने बच्चों की उपलब्धियां जानने का मौका मिल सके। 

क्षेत्र विकास की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हरोली विस क्षेत्र में बिना किसी राजनीतिक भेदभाव के विकास कार्य किए जा रहे हैं ताकि हरोली की सम्पूर्ण विकास सुनिश्चित हो सके। क्षेत्रवासियों को मूलभूत सुविधाएं जैसे सड़क, शिक्षा, बिजली व पानी उपलब्ध करवाने का कार्य तीव्र गति से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्षेत्रवासियों को पानी की समस्या से न जूझना पडे़ इसके लिए प्रदेश का सबसे बड़ा जल भंडारण टैंक बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि समनाल से बीत तक लगभग 42 करोड़ रूपये की लागत से सड़क बनाई जा रही है। इसके अतिरिक्त https://www.tatkalsamachar.com/hamirpur-news-vice-president/ उन्होंने बताया कि लगभग तीन करोड़ रूपये की लागत से हरोली विस में भव्य मंदिर का निर्माण किया जाएगा। 

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश में नशे से निपटने के लिए कडे़ कदम उठाएं जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नशे में संलिप्त किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। हरोली विस क्षेत्र बॉर्डर ऐरिया होने के कारण सभी बॉर्डरों पर कैमरे लगाए जा रहे हैं ताकि कोई भी संदिग्ध जहां से बाहर न जा सके।

इस दौरान भदसाली स्कूल के प्रधानाचार्य विक्रम बहादुर ने स्कूल की विभिन्न वार्षिक गतिविधियों की रिपोर्ट पढ़ी। इसके अलावा स्कूली बच्चों द्वारा रंगा-रंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए है।

इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष रणजीत राणा, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव अशोक ठाकुर, ओबीसी सेल के अध्यक्ष प्रमोद कुमार, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष विनोद बिट्टू, भदसाली की प्रधान सरोज, नंगनोली के प्रधान मेहताब ठाकुर, एसएमसी प्रधान शोभा रानी, जसपाल जस्सा,ं उप प्रधान सोनू, पूर्व प्रधान भदसाली अश्वनी जसवाल, पूर्व बीडीसी गुरदीप, विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य, समस्त स्कूली स्टाफ सहित अन्य गणमान्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here