आईपीएल के 13 सीजन. मुंबई इंडियन्स पांच बार चैंपियन. मुंबई ने ये पांच ख़िताब आठ साल के अंदर जीते हैं और इस साल मुंबई ने ख़िताब बचाने का कमाल किया है यानी लगातार दूसरी बार ट्रॉफी जीती है.

साल 2013 में पहली बार चैंपियन बनी मुंबई इंडियन्स अब आईपीएल में ‘सुपर पावर’ का रुतबा हासिल कर चुकी है. कोई और टीम मुंबई के आसपास भी नहीं दिखती.

ख़िताब जीतने की बात हो तो चेन्नई सुपर किंग्स दूसरे नंबर पर है. लेकिन मुंबई ने अब चेन्नई पर अपनी बढ़त को मजबूत कर लिया है. चेन्नई ने तीन बार ख़िताब जीता है और मुंबई पांच ट्रॉफी जुटा चुकी है.

कप्तान रोहित शर्मा ने ख़िताब जीतने के बाद कहा, ” टूर्नामेंट की शुरुआत में हमने कहा था कि हम जीत को आदत बनाना चाहते हैं. आप खिलाड़ियों से इससे ज़्यादा की उम्मीद नहीं कर सकते थे.”

मुंबई का दबदबा

हालांकि, आईपीएल-13 में डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियन्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी. पहले ही मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई को पांच विकेट से हरा दिया था लेकिन उसके बाद मुंबई की टीम ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. रिकॉर्ड बताएगा कि लीग राउंड में मुंबई ने पांच मैच गंवाए. इनमें से दो मैच सुपर ओवर तक खिंचे. हैदराबाद के ख़िलाफ़ आखिरी लीग मैच में मुंबई ने तीन आला खिलाड़ियों को आराम दिया था यानी ये टीम उस मैच में पूरी ताक़त से नहीं खेली थी. राजस्थान के ख़िलाफ़ जिस मैच में मुंबई को हार मिली, उसमें बेन स्टोक्स ने अदभुत शतकीय पारी खेल दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here