शिमला : भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने कहा, कांग्रेस के नेता कहते हैं की उनको हिमाचल की भाजपा सरकार के विकास कार्य नजर नहीं आते हैं। ठीक वैसे ही, जैसे कांग्रेस को हाल के वर्षों में पार्टी छोड़ने वाले अपने ही वरिष्ठ नेता नजर नहीं आते. भारत 1947 में ही आजादी के साथ संगठित हो गया था। हां इसी कांग्रेस के कुछ नेताओं ने जम्मू-कश्मीर के लिए अनुच्छेद-370 और 35A जैसे प्रावधानों से जरूर भारत को तोड़ने का काम किया था।

खन्ना ने कहा कांग्रेस ने इस यात्रा में हिमाचल प्रदेश को शामिल नहीं किया है। इससे यह लगता है कि कांग्रेस नेताओं की नजर में हिमाचल प्रदेश का कोई अस्तित्व ही नहीं है। कांग्रेस का मकसद भारत जोड़ने का नहीं तोड़ने का है। भारतीय राजनीति में परिवारवाद की जनक कांग्रेस को छोड़कर उनके नेता दूसरी पार्टी ज्वाइन कर रहे हैं। खन्ना ने कहा गुलाम नबी आजाद, ज्योतिरादित्य सिंधिया, कपिल सिब्बल, जितिन प्रसाद, हार्दिक पटेल, सुनील जाखड़, आरपीएन सिंह और कुलदीप बिश्नोई जैसे कई नेता है, जो कांग्रेस छोड़कर दूसरी पार्टी में गए हैं।

बल्क ड्रग पार्क मोदी की देन हिमाचल को, भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेई ने हिमाचल कोंडिया था औद्योगिक पैकेज।कांग्रेस के दूसरी तरफ दिल्ली की जनता को झूठ बोलकर एवं बरगलाकर सत्ता में आई आम आदमी पार्टी खुद नए-नए तरीके के भ्रष्टाचार कर रही है। स्टिंग का ज्ञान देने वाला आज खुद स्टिंग के घेरे में है। इसका जवाब केजरीवाल को देना चाहिए कि इससे कितनी काली कमाई की ? दिल्ली में नई शराब नीति को लागू करके केजरीवाल और सिसोदिया ने अपनी तिजोरी भरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here